मसूद अजहर पर चीन को दिया अल्टीमेटम

  12/04/2019


पाकिस्तान आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र में वैश्विक आतंकी घोषित करवाने की कवायद को तेज करने में भारत को अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस का साथ मिला है। यूएन सुरक्षा परिषद के स्थायी सदस्य अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने मसूद अजहर के खिलाफ बैन प्रस्ताव में अड़ंगा डालने के लिए चीन को अल्टिमेटम दिया है। बता दें बैन लगाने के प्रस्ताव को बार-बार चीन अपने वीटो विशेषाधिकार के प्रयोग के कारण रोकता रहा है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस जैश सरगना को वैश्विक आतंकी घोषित कराने के पक्ष में है। जबकि चीन अपने विशेष ताकत के बलबूते इस प्रस्ताव में तकनीकी आधार पर बाधा डालता है। सुरक्षा परिषद के तीनों स्थायी देशों ने चीन से रस्ताव से बाधा हटाने के लिए कहा है। यूएनएससी 1267 प्रतिबंध कमिटी अगले कुछ दिनों में एक बार फिर काउंसिल में मसूद को प्रतिबंधित करने के लिए नए सिरे से प्रस्ताव लाने की तैयारी में है।

मसूद अजहर पर अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंध लगाने को लेकर सहमति बनाने का दौर जारी है। पेइचिंग को इसके लिए 23 अप्रैल तक का समय दिया गया है। खबर है कि काउंसिल में इस प्रस्ताव को अनौपचारिक तौर पर करीब 15 देशों को भेजा गया है। उम्मीद जताई जा रही है कि चीन जैश सरगना पर अपना स्टैंड बदलेगा।

बता दें कि 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए अटैक के बाद अजहर पर बैन की प्रक्रिया फिर शुरू हुई थी। इस आतंकी हमले में भारत के 40 जवान शहीद हुए थे और दुनियाभर में इसकी कड़े शब्दों में निंदा की गई थी। हालांकि, चीन ने एक बार फिर अपनी चालाकी दिखाई और अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने सबंधी प्रस्ताव पर वीटो लगा दिया















विज्ञापन
Facebook
वीडियो
आपका वोट
किस घोषणा पत्र को आप भविष्य के लिए चुनना पसन्द करेंगे?
विज्ञापन
आपकी राय

संपर्क करे

अगर आप कोई सूचना, लेख , ऑडियो वीडियो या सुझाव हम तक पहुचाना चाहते है तो इस ई-मेल आई पर भेजे info@ekhabri.com या फिर Whatsapp करे 7771900010



  
विज्ञापन