महाराष्ट्र : ठाकरे सरकार के फ्लोर टेस्ट से पहले फंसा पेंच

  30/11/2019


मुंबई। महाराष्ट्र में नवगठित उद्धव सरकार का 30 नवंबर की दोपहर दो बजे विधानसभा में बहुमत परीक्षण होगा, जबकि 1 दिसंबर को स्पीकर का चुनाव होगा। 2 दिसंबर को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी द्वारा सदन को संबोधित किया जाएगा। इधर, बहुमत परीक्षण से पहले उद्धव ठाकरे सरकार के लिए नई मुसीबत खड़ी हो गई है। डिप्टी सीएम पद को लेकर एनसीपी और कांग्रेस में खींचतान शुरू हो गई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कांग्रेस ने फ्लोर टेस्ट से पहले डिप्टी सीएम पद की मांग कर ली है। कांग्रेस चाहती है कि राज्य में एनसीपी के अलावा उनकी पार्टी का भी डिप्टी सीएम हो।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में लंबे समय तक चली सियासी माथापच्ची के बाद शुक्रवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने राज्य के 19वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली थी। लंबे चले बैठकों के दौर के बाद शिवसेना ने कांग्रेस और एनसीपी के सहयोग से सरकार बनाई थी। जिसके बाद अब विधानसभा में उद्धव की असल परीक्षा होगी। मालूम हो शनिवार से महाराष्ट्र विधानसभा का विशेष सत्र शुरू होने जा रहा है। सदन के पहले दिन फ्लोर टेस्ट से पहले बहुमत से पहले मुख्यमंत्री, मंत्रियों और सदन के नेता प्रतिपक्ष का परिचय सदन से कराया जाएगा।

बहुमत परीक्षण से पहले शनिवार सुबह साढ़े नौ बजे विधानभवन में शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी विधायकों की बैठक होगी, जिसमें स्पीकर पद पर चर्चा की जाएगी। बैठक में कांग्रेस आज स्पीकर उम्मीदवार का नाम सुझाएगी। दरअसल, दोपहर 12 बजे तक स्पीकर पद के लिए नामांकन किया जाना है, क्योंकि 1 दिसंबर को स्पीकर का चुनाव होगा। सूत्रों के मुताबिक डिप्टी सीएम और स्पीकर को लेकर कांग्रेस और एनसीपी में पेंच फंसा हुआ है। कांग्रेस-एनसीपी दोनों ही पार्टियां स्पीकर का पद नहीं छोड़ना चाहती थीं। कांग्रेस ने एनसीपी के सामने स्पीकर का पद छोड़ने के बदले दो डिप्टी सीएम के पदों का प्रस्ताव रखा, लेकिन एनसीपी तैयार नहीं हुई।

बता दे कि बहुमत परीक्षण से पहले कल दोपहर 12 बजे तक कांग्रेस स्पीकर पोस्ट के लिए नामांकन दाखिल करेगी। जिसके जिलए तीन नाम भेजे जाएंगे। जिसके बाद सरकार में शामिल तीनों दल मिलकर एक नाम पर मुहर लगाएंगे। हालांकि स्पीकर 1 दिसंबर को का चयन होगा। बताया जा रहा है कि दो दिन तक सदन की कार्यवाई चल सकती है। फ्लोर टेस्ट से पहले शनिवार को तीनों दल द्वारा स्पीकर पोस्ट के लिए विधान भवन में सुबह साढ़े 9 बजे बैठक की जाएगी। हालांकि कांग्रेस ने अभी तक नाम नहीं भेजे हैं। दोपहर 12 बजे तक नाम भेजने की समयसीमा है।













विज्ञापन
Facebook
वीडियो
आपका वोट
क्या भूपेश सरकार का १५ अगस्त तक का सफर उपलब्यियों भरा रहा ? क्या है आपकी राय ?
विज्ञापन
आपकी राय

संपर्क करे

अगर आप कोई सूचना, लेख , ऑडियो वीडियो या सुझाव हम तक पहुचाना चाहते है तो इस ई-मेल आई पर भेजे info@ekhabri.com या फिर Whatsapp करे 7771900010



  
विज्ञापन